समस्याओं से जूझ रहे किसानों के हित में कदम उठाए सरकार-निर्मल शुक्ला

दीपक मिश्रा


हरिद्वार, 9 जून। अलकनंदा घाट पर आयोजित नव भारतीय किसान संगठन के दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन एवं चिंतन शिविर में संगठन के पदाधिकारियों ने किसानों की समस्याओं पर विचार विमर्श कर सरकार से समाधान करने की मांग की। विभिन्न राज्यों से सम्मेलन में भाग लेने आए किसानों को संबोधित करते हुए नव भारतीय किसान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्मल शुक्ला ने कहा कि देश का अन्नदाता किसान आज कई समस्याओं का सामना करना रहा है। कर्ज के जाल में फंसकर किसान आत्महत्या को मजबूर हो रहे हैं। फसलों का उचित दाम नहीं मिल रहा है।

चीनी मिलों पर बकाया का भुगतान नहीं हो रहा है। पूरे देश के किसान एमएसपी पर गांरटी दिए जाने की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार ने एमएसपी पर गारंटी को लेकर अभी तक कोई कदम नहीं उठाया है। उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकारों को किसानों की समस्याओं को गंभीरता से लेकर समाधान करना चाहिए। किसानों के हित में स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू किया जाए। किसान खुशहाल होगा तो देश खुशहाल होगा। मुख्य अतिथी बनारस से आए स्वामी स्वरूपानंद महाराज ने कहा कि गांव देश की आत्मा है। गांवों में रहने वाले करोड़ों किसान कड़ी मेहनत कर देश को अन्न उपलब्ध कराते हैं। लेकिन सरकारों की नीतियों के चलते किसान आर्थिक मोर्चे पर पिछड़ता जा रहा है।

सरकार को किसान हितैषी नीतियां लागू कर किसानों को आर्थिक रूप से सबल बनाना चाहिए। महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष सरिता ने कहा कि खेती किसानी को मजबूत करने के लिए सरकार को नीतियों में बदलाव करना चाहिए। देश को आर्थिक प्रगति के मार्ग पर तेजी से अग्रसर करने के लिए कृषि क्षेत्र को मजबूत बनाया जाना चाहिए। सम्मेलन को राष्ट्रीय महासचिव बबलू सिंह, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हेमेंद्र पाण्डे, अनीस कुरेशी, प्रेमनारायण दुबे शिल्पी मिश्रा, सीमामणी मिश्रा, नसीम आदि पदाधिकारियों ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.