बड़ी रामलीला के रंगमंच पर किया राम जन्म लीला का मंचन

हरिद्वार, 23 सितम्बर। श्रीरामलीला कमेटी रजि. ने आज राम जन्म के साथ ही विष्णुलोक ,इंद्र तथा दशरथ के राज दरबारों का भव्य दर्शन कराया। पृथ्वी पर बढ़ रहे अत्याचारों की रोकथाम के लिए इंद्र की अगुवाई में देवताओं ने श्रीहरि विष्णु से अवतरित होने का आग्रह किया । रामभक्तों को श्रीराम जन्म की बधाई देने पहुंचे हरिद्वार विधायक, पूर्व मंत्री तथा पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने अयोध्या में बन रहे विश्व के सबसे बड़े राम मंदिर निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी ,तो हजारों दर्शकों ने जय श्रीराम के नारों के साथ करतल ध्वनि से अतिथियों का स्वागत किया। सभी दर्शकों को रामजन्म की बधाई देते हुए विधायक मदन कौशिक ने कहा कि रामलीला का आयोजन समाज से नैतिक पतन को रोककर मर्यादित आचरण की प्रेरणा देता है

और अयोध्या के राम मंदिर ने भारत को विश्व स्तरीय ख्याति प्रदान की है ।उन्होंने श्री रामलीला कमेटी के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि उत्तराखंड की यह पहली रामलीला है जिसकी व्यवस्था और प्रस्तुतीकरण दोनों ही महान हैं।श्री रामलीला कमेटी ने आज भारत की उस प्राचीन मंत्रसृष्टि का दर्शन कराया जिसमें एक ऋषि ने अनुष्ठान से राजा दशरथ को जीवन के चतुर्थ आयाम में पुत्ररत्न की प्राप्ति कराई ।माता कौशल्या के अनुरोध पर चतुर्भुज रूप में प्रकट होने वाले भगवान ने बालरूप में अवतरित होकर राज परिवार को संतति सुख से अभिभूत किया।

श्रीहरि विष्णु के स्वरूप में अंकित तिवारी ने भगवान के तीन रूपों में दर्शन देकर दर्शकों को धन्य किया तो ब्रहन्नला के स्वरूप में रामलीला के बहुआयामी कलाकार मनोज सहगल नेअपनी टीम के साथ जब रामजन्म का बधाई गीत प्रस्तुत किया तो पूरे पंडाल में प्रसन्नता और मनोरंजन के अद्भुत वातावरण से दर्शक गदगद हो गए। रामलीला को अतीत की अद्भुत प्रस्तुति बनाने में तन मन और धन का जो योगदान दे रहे उनमें अध्यक्ष वीरेंद्र चड्ढा, उपाध्यक्ष सुनील भसीन, मुख्य दिग्दर्शक भगवत शर्मा मुन्ना ,संपत्ति कमेटी के सचिव रविकांत अग्रवाल, कोषाध्यक्ष रविन्द्र अग्रवाल , मंच संचालक विनय सिंघल , सहायक दिग्दर्शक साहिल मोदी, ऋषभ मल्होत्रा, विशाल गोस्वामी, दर्पण चड्ढा , राहुल वशिष्ठ, पवन शर्मा, अनिल सखूजा ,माधव वेदी तथा विपुल शर्मा का सराहनीय योगदान दर्शकों में प्रशंसा की पात्रता प्राप्त कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.